how cure fatty liver in patanjalihow cure fatty liver in patanjali

बहुत से लोगों का एक सवाल है कि How cure fatty liver in Patanjali यानी क्या पतंजलि में फैटी लिवर का बीमारी पूरी तरह से ठीक हो जाता है तो इस सवाल के सीधा सीधा जवाब है कि अगर आप समय से पतंजलि चिकित्सालय में जाते हैं तो आपके बीमारी जल्दी ठीक होते हैं‌। लेकिन जब आप किसी बीमारी को अपने शरीर में पूरी तरह से फैला लेते हैं और बचने की उम्मीद ही नहीं होती है तो फिर पतंजलि क्या कहीं भी ठीक नहीं हो पाएंगे।

fatty liver या फैटी लिवर का इलाज आयुर्वेद में सौ परसेंट है और हमने पाया है कि पतंजलि योग ग्राम या पतंजलि वैलनेस में इस बीमारी से शिकार कई लोग पूरी तरह से स्वस्थ होकर वापस लौटे हैं।

अंग्रेजी दवाओं से Fatty Liver का पूरी तरह से इलाज हो पाता है या नहीं ये तो हमें नहीं पता है लेकिन हम अपने अनुभव के आधार पर ये बात बोल सकते हैं कि अगर आपको फैटी लीवर का बीमारी है तो आप पतंजलि वैलनेस या योग ग्राम में बुकिंग कराएं और इस बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए आयुर्वेद योग और नेचुरोपैथी का सहारा लें

What is fatty liver फैटी लीवर क्या है?

लंबे समय तक अत्यधिक चर्बी युक्त खानपान तेल मसाला तला भुना खाते-खाते हमारे लीवर के अंदर आवश्यकता से अधिक फैट या चर्बी इकट्ठा होते जाता है और इसी अवस्था को Fatty Liver बोलते हैं।

जिनका शरीर का वजन ज्यादा होता है कोलेस्ट्रोल की बीमारी होती है या शुगर की बीमारी होती है उनको भी फैटी लीवर का समस्या होता है इसके अलावा वजन ज्यादा नहीं है अगर नॉर्मल है तो भी आपको फैटी लीवर हो सकता है।

Fatty Liver का पता चलते ही इसका इलाज आयुर्वेद के द्वारा करवाना चाहिए क्योंकि इसके ज्यादा बढ़ने से लीवर सिरोसिस भी हो सकता है और फिर आगे चलकर लीवर का कैंसर एवं पूरा लीवर सिस्टम का फेल होने का समस्या भी सामने आ सकता है।

How cure fatty liver in Patanjali

पतंजलि में सैकड़ो के संख्या में Fatty Liver के मरीज पूरी तरह से स्वस्थ होकर वापस लौटे हैं क्योंकि फैटी लीवर का संपूर्ण इलाज आयुर्वेद योग और नेचुरोपैथी में ही है।

Fatty Liver के मरीज अगर जल्द से जल्द अपना इलाज नहीं करवाते हैं तो फिर ये आगे चलकर लिवर सिरोसिस का रूप ले लेता है। अगर आपको फैटी लीवर का पता चल गया है तो तुरंत पतंजलि वैलनेस या पतंजलि योग ग्राम में अपना इलाज के लिए बुकिंग करवा लें।

ये भी पढ़ें:- Patanjali Me ilaj Kaise Karaye

सर्वकल्प क्वाथ से Fatty Liver का इलाज

स्वामी रामदेव जी का कहना है कि सर्वकल्प क्वाथ का काढा पिकर Fatty Liver को ठीक किया जा सकता है इसके लिए एक से दो चम्मच सर्वकल्प क्वाथ को दो ग्लास पानी में हल्का आंच पर पकाया जाता है और फिर आधा ग्लास बचने पर छानकर ठंडा करके खाली पेट सुबह दोपहर एवं शाम 3 टाइम पिया जाता है।

सर्वकल्प क्वाथ के साथ लौकी का जूस एवं गोधन अर्क का भी सेवन Fatty Liver के रोगियों को कराया जाता है और इसके साथ ही खानपान पर भी परहेज किया जाता है जैसे हल्का खाना ही लेना होता है ऐसे रोगियों को तला भुना भोजन से एवं नशे से दूर रहना होता है।

गोधन अर्क एवं सर्वकल्प क्वाथ के काढा से सौ परसेंट फैटी लिवर का समस्या समाप्त होता है ये स्वामी रामदेव जी का कहना है एवं पतंजलि वैलनेस और योग ग्राम में फैटी लीवर के इलाज के लिए गए मरीजों से हमने भी यही बात सुना है कि आयुर्वेद योग एवं नेचुरोपैथी से सौ पर्सेंट Fatty Liver का बीमारी दूर हो जाता है।

योगासन भी फैटी लीवर में काफी लाभदायक होते हैं

अगर आपको लिवर से जुड़ी कोई भी समस्या हो तो इसके लिए स्वामी रामदेव जी के द्वारा बताया गया कुछ आसन करें जिसका लिस्ट नीचे दिया जा रहा है।

  1. पवनमुक्तासन
  2. हलासन
  3. नौकासन
  4. मंडूकासन
  5. सशकासन
  6. वक्रासन
  7. गोमुखासन

ऊपर बताए गए सातों आसन को दो-दो मिनट से शुरू करके 5-5 और फिर 10-10 मिनट तक करना होता है इससे आपके पेट से जुड़ी सभी समस्याओं के साथ Fatty Liver में भी काफी लाभ होता है लेकिन ये सभी आसन सुबह खाली पेट ही किया जाता है और अपने योगा ट्रेनर के साथ ही करें।

इन आसनों को सीख लेने के बाद धीरे-धीरे इन सभी आसन को करते हुए कपालभाती भी करें तो और ज्यादा फायदा होता है।

इसके अलावा रोज एक से डेढ़ घंटा अनुलोम विलोम और आधा से एक घंटा भस्त्रिका प्राणायाम भी करें इससे आपके पूरा शरीर को ऑक्सीजन मिलता है और फिर शरीर के अंदर पनप रहे रोग धीरे-धीरे खत्म होने लगते हैं लेकिन प्राणायाम को खुला हवा में ही बैठकर करें ताकि शुद्ध ऑक्सीजन आपके अंदर जा सके।

ये भी पढ़ें:- अल्सरेटिव कोलाइटिस का आयुर्वेदिक इलाज

लिवोग्रिट वाइटल से करें Fatty Liver का उपचार

स्वामी रामदेव जी का कहना है कि लिवोग्रिट वाइटल से Fatty Liver का 100 परसेंट उपचार हो जाता है क्योंकि ये एडवांस तरीके से बनाया गया है और इसमें कई सारे महत्वपूर्ण जड़ी बूटियां डाली गई है।

इसके अलावा फैटी लीवर के रोगियों को खाली पेट लिवामृत और खाने के बाद लिवामृत एडवांस या लीवोग्रिट देने का सलाह दिया जाता है। ये सभी दवाएं अपने वैद्य या चिकित्सक के परामर्श में ही लें।

बकरी का दूध से फैटी लिवर का उपचार

Fatty Liver हो या लीवर का कोई अन्य समस्या हो इसमें बकरी का दूध बहुत ही फायदेमंद होता है। बकरी के दूध पचने में भी काफी आसान होता है और इसमें कई सारे ऐसे गुण होते हैं जो हमारे पेट एवं लीवर को काफी फायदा पहुंचाते हैं।

अब तो पतंजलि ने बकरी के दूध भी उपलब्ध कराना शुरू कर दिया है इसके लिए पतंजलि में ही बकरी पालन किया जा रहा है और अन्य जगहों से भी बकरी का दूध मंगाया जाता है फैटी लीवर या लीवर के अन्य रोगियों के लिए।

ये भी पढ़ें:- पेट में गैस की रामबांण दवा

Fatty Liver के रोगियों के लिए खानपान

फैटी लीवर के रोगियों को भारी खाना एवं नशा से परहेज करना होता है इनके लिए अनार पपीता और सेब को खूब चबा चबा कर खाने का सलाह दिया जाता है।

अनार को अच्छी तरह से चबाकर खाने के लिए बोला जाता है फैटी लीवर के रोगियों को वो चाहे तो इसका जूस भी पी सकते हैं। और देसी पपीता मिल जाए तो ये लिवर के लिए बहुत लाभदायक होता है।

नोट: इस पोस्ट में बताए गए सभी जानकारी हमने अपना अनुभव एवं स्वामी रामदेव जी के वीडियो से लिया गया है आप इन्हें अपने जीवन में अपनाने से पहले अपने वैद्य या चिकित्सक से परामर्श जरूर लें।

तो आप का सवाल था How cure fatty liver in Patanjali और हमने इसका विस्तार से जवाब दे दिया है अगर आपके पास और भी कुछ है तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें और हमसे पूछे।

क्या आयुर्वेद में Fatty Liver का इलाज है?

जी हां आयुर्वेद में ही फैटी लीवर का इलाज है आयुर्वेदिक दवाइयों एवं थेरेपी के द्वारा फैटी लिवर को पूरी तरह से ठीक कर दिया जाता है इसके लिए आपको पतंजलि के किसी चिकित्सालय में जाना होगा आप चाहे तो पतंजलि वैलनेस या पतंजलि योग ग्राम में अपना इलाज के लिए बुकिंग करा सकते हैं ये चिकित्सालय हरिद्वार में स्थित है।

आयुर्वेद में फैटी लिवर का घरेलू उपचार क्या है?

आयुर्वेद में फैटी लिवर पूरी तरह से ठीक हो जाता है इसके लिए आयुर्वेद योग एवं थेरेपी का सहारा लिया जाता है और यह उपचार पतंजलि वैलनेस या पतंजलि योग ग्राम में संभव है। अगर घरेलू उपचार की बात करें तो स्वामी रामदेव जी फैटी लिवर वालों को लिवोग्रिट खाने का सलाह देते हैं साथ ही पवनमुक्तासन, हलासन, उत्तानपादासन, मंडूकासन इत्यादि आसनों को करने के लिए बोलते हैं।

फैटी लिवर के लिए सबसे अच्छा लिवर सिरप आयुर्वेद में कौन सा है?

फैटी लिवर के लिए सबसे अच्छा लिवर सिरप लिवामृत एवं लिवोग्रिट टेबलेट बताया जाता है। फैटी लीवर के लिए दवाओं के साथ खानपान पर परहेज भी खास करके किया जाता है एवं बकरी का दूध पीने का सलाह दिया जाता है। पतंजलि में फैटी लीवर के मरीजों को योग आयुर्वेद एवं थेरेपी के द्वारा इस बीमारी को पूरी तरह से ठीक कर दिया जाता है।

By aayurvedick

नमस्ते मेरा नाम है सुशील और ये है aayurvedick.com यहां पर आपको आयुर्वेदिक सुझाव एवं आपके शरीर के फिटनेस से संबंधित वो सभी तरह की जानकारियां मिलने वाली है जिसे आप इंटरनेट पर ढूंढते हैं। अगर आप आयुर्वेद के दुनिया में कैरियर बनाना चाहते हैं तो इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!